Type Here to Get Search Results !

Web Hosting Kya Hai | और यह कितने प्रकार की होती है ?

0

 अगर आप अपनी वेबसाइट बनवा रहे हैं या फिर खुद बना रहे हैं तो आपको वेब होस्टिंग की जरूरत होती है। अगर आप इस फिल्ड में नए है तो शायद आपको पता नहीं होगा की वेब होस्टिंग क्या है ? आज इस आर्टिकल में हम आपको वेब होस्टिंग क्या है और यह कैसे काम करती है। इसकी पूरी जानकारी देंगे, अगर आप वेब होस्टिंग के बारें में सम्पूर्ण जानकारी चाहते है तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें। यहाँ आपको वेब होस्टिंग कितने प्रकार की होती है और एक अच्छी होस्टिंग के फायदे क्या है, और यह कितने प्रकार की होती है इन सभी की जानकारी मिलेगी। तो चलिए पढ़ते है वेब होस्टिंग क्या है ?

Web Hosting Kya Hai


वेब होस्टिंग क्या है – Web Hosting Kya hai

इंटरनेट पर हमें अपनी वेबसाइट बनाने के लिए जगह की जरूरत होती है, इस जगह को Internet की भाषा में Web Hosting कहते हैं। यह Web Hosting हमें एक सर्वर प्रदान करती है, हम इस सर्वर पर अपनी वेबसाइट के कंटेंट, इमेज, वीडियो इत्यादि store करते हैं। Web Hosting कंपनियां हमें हमारी जरूरत के अनुसार Space देती है जहाँ हम अपने कंटेंट store कर सकते है। आप अपनी जरूरत के अनुसार Space खरीद सकते है और आप कंपनियों को Monthly और Yearly के अनुसार रूपए दे सकते हैं।

साधारण शब्दों Web Hosting की परिभाषा

अगर साधारण शब्दों में कहूँ तो वेब होस्टिंग एक प्लाट की तरह होती है जैसे हम कहीं पर अपना घर बनाते है तो हमें प्लाट की जरूरत होती है उसी तरह इंटरनेट पर वेबसाइट बनाने के लिए हमें इंटरनेट पर जगह लेनी पड़ती है। इसी जगह को Web Hosting कहा जाता है। इंटरनेट पर आज अनेक वेब होस्टिंग कंपनियां यह सर्विस प्रदान करती है। हम किसी भी कंपनी से अपनी वेबसाइट के लिए वेब होस्टिंग खरीद सकते हैं।

वेब होस्टिंग कैसे काम करता है ?

जब कोई भी यूजर हमारी वेबसाइट यानि हमारे Domain Name पर Visit करता है तो Web Hosting उस यूजर को हमारे सर्वर से कनेक्ट कर देता है। यूजर जब हमारे सर्वर से जुड़ जाता है तो उसे हमारे द्वारा सर्वर में डाले गये कंटेंट नजर आने लगते है। आज इंटरनेट पर जितनी भी वेबसाइट मौजूद है उन सभी का डाटा किसी ना किसी वेब होस्टिंग कंपनी के सर्वर पर अपलोड होता है।

वेब होस्टिंग कितने प्रकार की होती है ?

वेब होस्टिंग मुख्यत: 4 प्रकार की होती है, अगर हम अपनी वेबसाइट बनाते है या फिर बनवा रहे है तो इन चार प्रकारों में किसी भी एक तरह की वेब होस्टिंग खरीद सकते हैं। वेब होस्टिंग के यह चार प्रकार इस तरह है –

  • Shared Hosting
  • Dedicated Hosting
  • VPS Hosting
  • Cloud Hosting

Shared Hosting क्या है ?

Web Hosting का यह प्रकार बहुत सस्ता और नए यूजर के लिए बहुत अच्छा है। अगर आप नए है और अपनी वेबसाइट को सस्ते में बनाना चाहते है तो Shared Hosting आपके लिए एक परफेक्ट चुनाव हो सकता है। Shared Hosting में एक ही सर्वर पर अनेक वेबसाइट Host होती है। यानि बहुत सारे यूजर एक ही CPU, RAM और Space का यूज़ करते है। इसलिए यह सस्ता होस्टिंग प्लान होता है।

Shared Hosting कौन खरीदता है

यह होस्टिंग उन लोगों के लिए बहुत अच्छी और सही होती है जो अभी इस फिल्ड में नए हैं और उनका काम सिर्फ आर्टिकल पब्लिश करना है। उनकी वेबसाइट पर अगर ट्रैफिक कम होता है तो वो Shared Hosting प्लान खरीद सकते हैं।

नोट: अगर आपकी वेबसाइट पर बहुत ज्यादा ट्रैफिक है या फिर आपकी वेबसाइट फाइल्स का साइज़ बहुत ज्यादा है तो आप Shared Hosting का use ना करें।

Dedicated Hosting क्या है ?

Dedicated Hosting सबसे अच्छा वेब होस्टिंग का प्रकार है, इसके सर्वर पर सिर्फ आपका अधिकार होता है। इसमें जो Server होता है उसपर सिर्फ आपका Control होता है। आप इसके सेटिंग में बदलाव करके किसी भी तरह का अन्य सॉफ्टवेर अपने हिसाब से इनस्टॉल कर सकते है और आप चाहें तो अपने इस सर्वर पर कितनी भी वेबसाइट होस्ट कर सकते हैं। यह सबसे अच्छा और सबसे मजबूत वेब होस्टिंग सर्वर माना जाता है। Dedicated Hosting का यह सबसे बड़ा फायदा है जब भी आपकी वेबसाइट पर बहुत ज्यादा ट्रैफिक आएगा तो आपकी वेबसाइट का लोडिंग टाइम कम नहीं होगा। और आपका ट्रैफिक वेस्ट नहीं होगा।

Dedicated Hosting  कौन Use करता है

Dedicated Hosting वेब होस्टिंग का सबसे पोपुलर प्लान है, इसका उपयोग निजी न्यूज़ वेबसाइट वाले और जिनके पास बहुत ज्यादा ट्रैफिक है वो लोग इस वेब होस्टिंग का यूज़ करते हैं। अगर आपकी वेबसाइट पर बहुत ज्यादा ट्रैफिक है या आने वाला है तो आप Dedicated Hosting का यूज़ करें। यह प्लान महंगा है पर आपके लिए बहुत अच्छा साबित होगा।

VPS ( Virtual Privet Server ) Hosting क्या है ?

यह Visualization Technology पर काम करता है, इसे हम Shared Web Hosting और Dedicated Hosting का मिश्रण कह सकते हैं। क्योंकि इसमें Web Hosting कंपनियां एक बहुत बड़ा सर्वर खरीदकर रखती है। और उसे अलग-अलग भागों में बाँट देती है। इस सर्वर पर कंपनी का अधिकार होता है पर इसमें से हमें जो पार्ट मिलता है उसपर हमारा अधिकार होता है। Example – हम किसी भी होटल में रूम लेते है तो उस रूम पर हमारा अधिकार होता है, जब तक हम उस रूम का किराया दे रहें है। उस रूम में हम अपने हिसाब से कुछ भी बदलाव कर सकते है और हम अपने अनुसार उस रूम को ढाल सकते हैं पर उस रूम पर पूर्ण अधिकार सिर्फ होटल के मालिक का होता है। ठीक इसी तरह VPS Hosting काम करती है, इसमें एक सर्वर पर अनेक लोग होते हैं। VPS होस्टिंग में हम Bandwidth और Space अपने हिसाब से बढ़ा सकते हैं।


VPS होस्टिंग का उपयोग कौन करता है ?

VPS होस्टिंग आज सबसे ज्यादा खरीदी जाने वाली होस्टिंग है, क्योंकि यह शेयर्ड होस्टिंग के मुकाबले बहुत अच्छी है और डेडिकेटेड होस्टिंग से सस्ती है। अगर आपको लगता है की आपकी वेबसाइट का लोडिंग टाइम कम है तो उसे फ़ास्ट करने के लिए आप इस होस्टिंग का उपयोग कर सकते हैं। साथ में अगर आपकी साईट पर बहुत ज्यादा ट्रैफिक है तो आपके लिए यह होस्टिंग सस्ती और अच्छी साबित हो सकती है।

Cloud hosting क्या है ?

दोस्तों Cloud Hosting सबसे महंगी और सबसे अच्छी होस्टिंग होती है, यह VPS और Dedicated होस्टिंग के मुकाबले बहुत अच्छी मानी जाती है। क्योंकि इसपर होस्ट की गई वेबसाइट पर चाहे जितना भी लोड यानि ट्रैफिक आ जाए इसका सर्वर डाउन नही होता है। क्योंकि यह आपकी वेबसाइट को एक सर्वर पर नहीं अनेक सर्वर पर उपलोड करता है ऐसे में अगर एक सर्वर आपका ट्रैफिक नहीं झेल पाता है तो दूसरा सर्वर अपना काम करता है। यह अनेक Resource उपयोग करके आपकी वेबसाइट को हर समय एक्टिव रखने का काम करता है। इस पर होस्ट की गई वेबसाइट का Load Time बहुत कम होता है।

Cloud hosting का उपयोग कौन करता है ?

जैसा की हमने उपर बताया है की यह होस्टिंग सबसे अच्छी होती है पर यह सबसे महंगी भी होती है। इसपर उन वेबसाइट को होस्ट किया जाता है जिनपर एक दिन में करोड़ों लोग विजिट करते है। ऐसी न्यूज़ वेबसाइट या सोशल नेटवर्क क्लाउड होस्टिंग सर्वर पर ही होस्ट किये जाते है। अगर आपकी वेबसाइट पर एक दिन में 500,000 लोग आते है तो आपको Cloud Hosting की जरूरत पड़ सकती है।

होस्टिंग फीचर का ध्यान जरुर रखें

अगर आप अपनी वेबसाइट होस्ट करने जा रहे हैं और होस्टिंग खरीदना चाहते है तो आपको कंपनी की वेबसाइट में इन चीजों को गौर से देखना होगा। ताकि आपके साथ किसी भी तरह की ठगी ना हो –

Bandwidth – Bandwidth वह प्रणाली है जो आपके विजिटर को आपकी वेबसाइट से जोड़ता है, ऐसे में होस्टिंग खरीदते वक्त हमेशा बैंडविड्थ की कैपेसिटी जरुर देखें, कभी भी Low Bandwidth वाली होस्टिंग ना खरीदें।

Uptime – विश्वासपात्र होस्टिंग कंपनियों की ख़ास बात यह होती है की वो 99.9% Uptime की guaranty देती है। उनके अनुसार आपकी वेबसाइट किसी भी स्थिति में यूजर के लिए उपलब्ध रहेगी यानि आपकी वेबसाइट का सर्वर डाउन नहीं होगा।

Storage – होस्टिंग खरीदने से पहले होस्टिंग Space इत्यादि की पूरी जानकारी लेंवे और आपकी वेबसाइट को कितने Storage की आवश्यकता है जरुर देखें और उसी के अनुसार होस्टिंग खरीदें, क्योंकि आपके कंटेंट, मीडिया फाइल्स इत्यादि के लिए Storage की आवश्यकता पड़ती है।

Email – आप होस्टिंग के साथ ईमेल होस्टिंग भी खरीद सकते है और सभी कंपनियां ईमेल होस्टिंग वेब होस्टिंग के साथ देती है। इससे आप अपनी कंपनी के नाम से कस्टम ईमेल बना सकते हैं एंव उसका उपयोग कर सकते हैं। यह आपके लिए और आपकी कंपनी के लिए बहुत जरूरी होता है की कंपनी का कस्टम ईमेल होना।

Backup- होस्टिंग खरीदने से पहले ध्यान दें की कंपनी आपको Backup की सुविधा दे रही हो, अगर नहीं दे रही तो आप उस कंपनी से कभी भी होस्टिंग ना खरीदें। अगर backup सुविधा नहीं मिलती है तो आपका Data Loss हो सकता हैं।

Costumer support – किसी भी कंपनी से होस्टिंग खरीदते वक्त आपको ध्यान रखना चाहिए की कंपनी का कस्टमर सपोर्ट कैसा है। इसलिए कंपनी के चैट सपोर्ट या कंपनी के कॉल नंबर पर संपर्क करके आप कस्टमर से अपने Web Hosting से जुड़े Doubt क्लियर जरुर करें। ताकि उनके सपोर्ट सिस्टम का पता चल पाए।

Post a Comment

0 Comments